28.1 C
New Delhi
June 18, 2021
Trending

अगस्त से दिसंबर तक 216 करोड़ डोज मिलेंगे, केवल 2 नहीं बल्की 8 टीकों का विकल्प होगा

कंपनियों के प्रोडक्शन प्लान पर सरकार का दावा...टीके के डोज कम नहीं पड़ेंगे। - Dainik Bhaskar

कंपनियों के प्रोडक्शन प्लान पर सरकार का दावा…टीके के डोज कम नहीं पड़ेंगे।

  • जुलाई तक के लिए 35.6 करोड़ डोज पहले से ही बुक हैं, इनमें से 20 करोड़ मिल चुकीं, राज्यों व निजी अस्पतालों का 16 करोड़ का ऑर्डर अलग

वैक्सीन की कमी की राज्यों की शिकायत के बीच गुरुवार को केंद्र सरकार ने दिसंबर, 2021 तक का वैक्सीन उपलब्धता का पूरा रोडमैप जारी कर दिया। केंद्र सरकार का दावा है कि अगस्त से दिसंबर 2021 के बीच देश को 216 करोड़ वैक्सीन डोज उपलब्ध होंगी। वैक्सीन की यह संख्या देश के 95 करोड़ व्यस्कों के लिए पर्याप्त होगी। फिलहाल देश में दो ही वैक्सीन कोविशील्ड और कोवैक्सीन उपलब्ध हैं, जबकि दिसंबर तक इन दोनों के अलावा वैक्सीन के 6 और विकल्प मौजूद होंगे।

नेशनल एक्सपर्ट ग्रुप ऑन वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन फॉर कोविड-19 (नेगवैक) के प्रमुख प्रो.वी.के.पॉल का कहना है कि भारत में अगस्त से दिसंबर-2021 तक वैक्सीन की 216 करोड़ डाेज उपलब्ध होने की उम्मीद है। प्रो.पॉल का कहना है कि फिलहाल कोविशील्ड और कोवैक्सीन के अलाव स्पूतनिक-वी वैक्सीन को लाइसेंस मिला है।

इन तीनों से अगस्त से दिसंबर-21 के बीच 145.6 करोड़ डोज मिलेंगे। इसके अलावा बायो ई, जाइडस कैडिला, सीरम की नोवावैक्स, भारत बॉयोटेक की नेजल वैक्सीन और जीनोवा कंपनी की वैक्सीन का ट्रायल तीसरे फेज में है। इनका भी प्रोडक्शन प्लान सरकार को मिला है। जुलाई तक के लिए केंद्र ने 35.6 करोड़ वैक्सीन डोज का ऑर्डर दिया है। जिसमें से 20 करोड़ अब तक मिल चुके हैं। 16 करोड़ का ऑर्डर राज्यों और निजी अस्पतालों ने भी दिया है।
बच्चों पर वैक्सीन ट्रायल की अनुमति

2 वर्ष से 18 वर्ष तक के लोगों के लिए वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रायल को मंजूरी मिल गई है। 5-6 माह में बच्चों के लिए भी देश में निर्मित वैक्सीन उपलब्ध होगी।

18+ की आबादी करीब 98 करोड़, इनमें से 3.95 करोड़ को लगे हैं दोनों डोज…10% वैक्सीन खराब भी हो तो बची आबादी के लिए पर्याप्त टीके

ये 216 करोड़ डोज कंपनियां भारत के लिए ही बना रही हैं। इसमें 50% केंद्र और 50% राज्यों को खरीदनी है। देश में 18+ को ही टीके लग रहे हैं। इस आयुवर्ग की आबादी करीब 98 करोड़ है। जिसमें 3.95 करोड़ को ही दोनों डोज लगे हैं। बची आबादी के दोनों डोज के लिए 189 करोड़ डोज चाहिए।

यानी 216 करोड़ डोज में यदि 10% खराब हो जाए तो भी पर्याप्त टीके होंगे। प्रो.पॉल ने बताया कि मॉर्डना, फाइजर व जॉनसन एंड जॉनसन ने वैक्सीन की उपलब्धता अगस्त में बताई है। अब तक किसी ने लाइसेंस के लिए अर्जी नहीं दी है। अर्जी देने के एक दिन में मंजूरी दे दी जाएगी।

अगले हफ्ते से मिल सकती है स्पूतनिक-वी
अगले हफ्ते से रूसी स्पूतनिक-वी वैक्सीन की भी देश में बिक्री शुरू हो सकती है। दिसंबर तक इसकी 15.6 करोड़ डोज उपलब्ध होंगी।

भारत बायोटेक कोवैक्सीन की तकनीक शेयर करने को तैयार, इच्छुक कंपनियां आगे आएं : प्रो. वी.के. पॉल
नेगवैक के प्रमुख प्रो.वी.के.पॉल ने कहा कि आईसीएमआर के साथ मिलकर तैयार की गई भारत बायोटेक की कोवैक्सीन की तकनीक को सार्वजनिक करने पर उन्होंने कंपनी से बात की है। कंपनी को तकनीक साझा करने में कोई आपत्ति नहीं है। हालांकि इस तकनीक में वायरस को इनएक्टिव कर वैक्सीन में इस्तेमाल किया जाता है जो बीएसएल-3 लैब में ही संभव है। इस क्षमता से लैस वैक्सीन निर्माता कंपनियों की संख्या देश में कम है। प्रो. पॉल ने कहा कि यह सभी इच्छुक कंपनियों के लिए खुला आमंत्रण हैं। वे आगे आएं, सरकार इसमें हर संभव मदद देगी।

कोविशील्ड की दो खुराकों के बीच का अंतर अब 12-16 हफ्ते

कोविशील्ड वैक्सीन की दो डोज के बीच का अंतर अब 6-8 हफ्ते से बढ़ा 12-16 सप्ताह कर दिया गया है। एनटागी की सिफारिश को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंजूरी दी है

Related posts

हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार से कहा- दिल्ली को ऑक्सीजन देने के आदेशों का सख्ती से हो पालन

Umang Singh

प्रवासी कामगारों के लिए मुफ्त खाद्यान्न वितरण की संभावना से सरकार का इन्कार

Umang Singh

पंजाब की हार पर नेहरा ने कोच और कप्तान को जमकर लताड़ा, सुनाई खरी-खरी

Umang Singh

होम आइसोलेशन में लक्षणों की तीव्रता और मरीज की मेडिकल हिस्ट्री के हिसाब से दवा बदलते हैं, डॉक्टर से पूछकर ही दवा लें

Umang Singh

PM नरेंद्र मोदी आज गुजरात और दीव का दौरा करेंगे, चक्रवात ताउते के कारण हुए नुकसान की समीक्षा

Umang Singh

कोरोना वायरस : दिल्ली के चांदनी चौक मार्केट के बाद अब चावड़ी बाजार का पेपर मार्किट भी बंद

Umang Singh

Leave a Comment

Live Corona Update

Live updates on covid cases