34.1 C
New Delhi
June 27, 2022
World

कोरोना से लड़ाई में चीन करेगा भारत की हरसंभव मदद ;चीनी विदेश मंत्री ने एस जयशंकर को लिखा पत्र, बोले

चीन के विदेश मंत्री वांग यी (Wang Yi) ने बृहस्पतिवार को वादा किया कि COVID-19 के खिलाफ जंग में उनका देश भारत की हरसंभव मदद करेगा

India-China standoff: EAM Jaishankar and his Chinese counterpart meet in  Moscow amid Ladakh tensions | World News – India TV
चीनी विदेश मंत्री ने एस जयशंकर को लिखा पत्र, बोले- कोरोना से लड़ाई में भारत की हरसंभव मदद करेंगे

बीजिंग: 

चीन के विदेश मंत्री वांग यी (Wang Yi) ने बृहस्पतिवार को वादा किया कि COVID-19 के खिलाफ जंग में उनका देश भारत की हरसंभव मदद करेगा और कहा कि चीन में बनी महामारी रोधी सामग्री ज्यादा तेज गति से भारत पहुंचाई जा रही हैं. विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) को लिखे पत्र में वांग ने कहा चीनी पक्ष, ‘‘भारत जिन चुनौतियों का सामना कर रहा है, उनके प्रति संवेदना रखता है और गहरी सहानुभूति प्रकट करता है.” भारत में चीन के राजदूत सुन वेइदोंग ने इस पत्र को ट्विटर पर साझा किया जिसमें लिखा है, ‘‘कोरोनावायरस मानवता का साझा दुश्मन है और अंतरराष्ट्रीय समुदाय को एकजुट और समन्वयित होकर इसका मुकाबला करने की जरूरत है. चीनी पक्ष भारत सरकार और वहां के लोगों का, महामारी से लड़ाई में समर्थन करता है.”

वांग यी ने कहा कि चीन में उत्पादित महामारी रोधी वस्तुएं तेजी से भारत में पहुंचाई जा रही हैं ताकि भारत की इस महामारी में मदद की जा सके. उन्होंने कहा, ‘‘चीनी पक्ष भारत की जरूरत के अनुरूप यथासंभव समर्थन और मदद पहुंचाना जारी रखेगा. हमें उम्मीद और भरोसा है कि भारत सरकार के नेतृत्व के अंतर्गत लोग यथा शीघ्र इस महामारी पर काबू पा लेंगे.”

वांग का पत्र ऐसे समय आया है, जब दोनों देशों की सेनाओं की पूर्वी लद्दाख के बाकी बचे तनाव वाले इलाके से वापसी होनी बाकी है. दोनों देशों की सेना फरवरी में पैगोंग झील के इलाके से पीछे हटी थीं. इस बीच चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने बृहस्पतिवार को यूएस इंडिया स्ट्रैटेजिक पार्टनरशिप फोरम (यूएसआईएसपीएफ) के उन आरोपों को “फर्जी खबर” करार दिया कि चीन ने भारत में ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए उसके यहां से खरीदे जा रहे ऑक्सीजन सांद्रकों की खेप को रोक दिया है.

वॉशिंगटन स्थित यूएसआईएसपीएफ के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी मुकेश अघी को उद्धृत करते हुए मीडिया में आ रही खबरों के बारे में पूछे जाने पर वांग वेनबिन ने कहा कि यह “फर्जी खबर” है. खबरों में अघी के हवाले से कहा गया था कि चीन ने सभी मालवाहक उड़ानों को रोक दिया है, जिससे चीन से एक लाख ऑक्सीजन सांद्रक भारत पहुंचाने के उनके संगठन के प्रयासों में विलंब हो रहा है.

प्रवक्ता ने कहा, “यह फर्जी खबर है. चीन द्वारा भारत के लिए अमेरिका द्वारा खरीदे गए ऑक्सीजन उत्पादकों के परिवहन को रोके जाने की खबर फर्जी है.” उन्होंने हालांकि इस सवाल का जवाब नहीं दिया कि सरकारी सिचुआन एयरलाइंस अपनी उड़ानें कब शुरू करेगी, जिसने भारत के लिए अपनी सभी 11 मालवाहक उड़ानों को स्थगित कर दिया है, जिससे ऑक्सीजन सांद्रकों की खरीद बाधित हुई.

कोविड-19 के मद्देनजर 26 अप्रैल को उड़ानें स्थगित किए जाने की घोषणा के बाद एयरलाइंस ने कहा था कि वह सेवाओं को शुरू करने के लिए नई योजना पर काम कर रही है. उड़ानों का नया कार्यक्रम हालांकि अब तक जारी नहीं किया गया है.

Related posts

विद्रोहियों से मुकाबले में मारे गए चाड के राष्ट्रपति, 30 साल से अधिक का रहा कार्यकाल

Umang Singh

अमेजन के सीईओ के रूप में लिखा अंतिम खत:जेफ बेजोस ने दिए सफलता के दो सूत्र, कहा- उपभोग से ज्यादा पैदा करना सीखें, 21वीं सदी में समय ही सबसे बड़ी पूंजी होगी

Umang Singh

शंंघाई शिपयार्ड में बन रहा चीन का सबसे बड़ा एयरक्राफ्ट कैरियर, आधे से अधिक बनकर तैयार, देखें सेटेलाइट इमेज

Umang Singh

सूडान में सेना ने किया तख्तापलट

Swarajya Bharat Team

बंगाल में हुई हिंसा के विरोध में अमेरिका के तीस शहरों में प्रदर्शन, ब्रिटेन समेत कई देशों ने की निंदा

Umang Singh

युद्ध संकट: अमेरिका ने बताया- राष्ट्रपति जेलेंस्की मारे जाते हैं तो क्या होगा यूक्रेन का, रूस पर क्या होगा इसका प्रभाव?

Swarajya Bharat Team

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Live Corona Update

Live updates on covid cases

AllEscort