34.1 C
New Delhi
June 27, 2022
World

टोक्यो में इस साल कोरोना इमरजेंसी के बीच ओलिंपिक:इंटरनेशनल कमेटी ने जापानी जनता के खिलाफ कहा- कोरोना इमरजेंसी के बीच भी टोक्यो गेम्स होकर रहेंगे

ओलिंपिक से 11 हफ्ते पहले ही टोक्यो में 31 मई तक के लिए कोरोना इमरजेंसी बढ़ा दी है। इसी बीच 17 मई को ओलिंपिक टॉर्च रिले इवेंट है।

जापान की राजधानी टोक्यो में इस साल कोरोना इमरजेंसी के बीच ओलिंपिक होकर रहेगा। इसे कोई नहीं रोक सकता। यह बात इंटरनेशनल ओलिंपिक कमेटी (IOC) ने कही है। हालांकि, जापान की जनता कोरोना के बीच टोक्यो गेम्स के खिलाफ है। हाल ही में इसके खिलाफ एक ऑनलाइन याचिका भी दायर की गई, जिस पर 2 लाख से ज्यादा लोगों ने साइन किए हैं।

टोक्यो ओलिंपिक इस साल 23 जुलाई से 8 अगस्त तक ओलिंपिक होना है। टूर्नामेंट से 11 हफ्ते पहले ही टोक्यो में 31 मई तक के लिए कोरोना इमरजेंसी लगा दी है। इसी बीच 17 मई को ओलिंपिक टॉर्च रिले इवेंट है। इसी दिन IOC के प्रेसिडेंट थॉमस बाक जापान आएंगे और अगले दिन प्रधानमंत्री के साथ मीटिंग करेंगे।

ओलिंपिक होकर रहेगा

IOC के वाइस प्रेसिडेंट जॉन कॉट्स ने शनिवार को ओलिंपिक टालने या रद्द करने को लेकर कहा कि यह बिल्कुल भी संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदो सुगा और अमेरिका के राष्ट्रपति ने 2-3 हफ्ते पहले ही IOC को तैयारियां जारी रखने को कहा है। हम भी योशिहिदो के साथ मिलकर सभी जरूरी सुरक्षा इंतजामों के साथ तैयारी कर रहे हैं। यह ओलिंपिक होकर रहेगा।

जॉन कॉट्स ने कहा कि वे तैयारियों के साथ-साथ एथलीट्स और जापानी नागरिकों की सुरक्षा के भी सभी इंतजाम कर रहे हैं। सभी लोगों की सुरक्षा ही उनके लिए प्राथमिकता है। IOC ने फाइजर (Pfizer) और BioNTech जैसी वैक्सीन कंपनियों से करार किया है, ताकि ओलिंपिक में शामिल होने वाले एथलीट्स और स्टाफ को कोरोना वैक्सीन लगाई जा सके।

सभी संस्थाएं ओलिंपिक कराने के पक्ष में
थॉमस बाक और जापानी ऑर्गनाइजिंग कमेटी शुरुआत से ही कहते आ रहे हैं कि टूर्नामेंट को सफलतापूर्वक करा लिया जाएगा। जबकि मीडिया पोल्स में बताया जा रहा है कि ज्यादातर लोग टूर्नामेंट के खिलाफ हैं। जापान के लोग इस टूर्नामेंट को एक साल के लिए टालने के पक्ष में हैं।

ओलिंपिक रद्द करने के लिए ऑनलाइन याचिका दायर
जापानी क्योदो न्यूज एजेंसी के मुताबिक, लॉयर केंजी उत्सुनोमिया ने बुधवार को ही टोक्यो ओलिंपिक रद्द करने के लिए ऑनलाइन याचिका थॉमस बाक, जापान के प्रधानमंत्री और टूर्नामेंट से जुड़ी दूसरी संस्था और अधिकारियों को भेजी गई। केंजी टोक्यो सरकार के खिलाफ इससे पहले भी कई बार याचिकाएं लगा चुके हैं। केंजी 17 मई को ओलिंपिक टॉर्च रिले इवेंट से पहले ज्यादा से ज्यादा अभियान के सपोर्ट में लोगों के साइन कलेक्ट करना चाहते हैं।

याचिकाकर्ता केंजी का मानना है कि कोरोना जैसी महामारी के बीच में टोक्यो ओलिंपिक कराना बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं है। उन्होंने कहा कि जापान के कई शहरों में मेडिकल सुविधाओं की बेहद कमी है। लोग कोरोना से जूझ रहे हैं। ऐसे में टूर्नामेंट कराना हेल्थ वर्कर्स, नागरिकों और गेम्स में शामिल होने वाले लोगों के लिए घातक साबित होगा।

ओलिंपिक में अभी तीन महीने से भी कम का समय बचा है। फिलहाल, टोक्यो शहर कोरोना के चलते इमरजेंसी की दौर से गुजर रहा है। यहां अस्पतालों में हालात सुधारने पर काम किया जा रहा है।

Related posts

अमेरिका ने NATO को दी यूक्रेन में विमान भेजने की मंजूरी, आगे नहीं आ रहा कोई देश

Swarajya Bharat Team

भारतवंशी अमेरिकी सांसद रो खन्ना ने दिलाई आशा की एक उम्मीद ;बाइडेन फाइजर के CEO से बात कर भारत को टीका निर्माण की अनुमति देंगे

Umang Singh

जी-7 की बैठक में शिनजियांग में बंधुआ मजदूरी रोकने की पहल करेंगे बाइडेन , फिर तनाव में आ सकते है चीन-अमेरिका के रिश्‍ते

Umang Singh

इजरायली हमले में मारी गई मां की गोद से बचाया गया 5 महीने का बच्चा, रोते हुए पिता बोले- ‘दुनिया में बस तुम मेरे’

Umang Singh

चीन को आगाह करने के लिए ब्रिटेन भी करेगा भारत के साथ सैन्य अभ्यास

Umang Singh

अमेरिका में पहली बार महिलाओं ने पूरी की मरीन ट्रेनिंग, तीन घंटे नींद, 35 किलो वजन लेकर 15 किमी चढ़ाई करती थीं

Umang Singh

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Live Corona Update

Live updates on covid cases

AllEscort