34.1 C
New Delhi
May 21, 2022
National Trending

लखीमपुर हिंसा पर सुप्रीम कोर्ट का सवाल:रैली में सैकड़ों किसान थे तो सिर्फ 23 चश्मदीद क्यों?

सुप्रीम कोर्ट ने लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में मंगलवार को उत्तर प्रदेश सरकार को फटकार लगाई। कोर्ट ने राज्य सरकार को केस के गवाहों को सुरक्षा मुहैया कराने का निर्देश दिया। 3 अक्टूबर को किसानों के विरोध के दौरान हुई हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी।

यूपी सरकार ने आज जांच को लेकर अपनी दूसरी स्टेटस रिपोर्ट कोर्ट में दाखिल की। राज्य सरकार की ओर से पेश सीनियर वकील हरीश साल्वे ने बेंच को बताया कि 68 गवाहों में से 30 के बयान धारा 164 के तहत दर्ज किए गए हैं और उनमें से 23 चश्मदीद गवाह हैं।

23 चश्मदीदों को लेकर कोर्ट ने सवाल उठाया
बेंच ने पूछा कि सैकड़ों प्रदर्शनकारियों की भीड़ में से केवल 23 चश्मदीदों का ही पता चला। बेंच ने साल्वे से कहा कि अपनी एजेंसी से पूछिए, देखिए 23 से ज्यादा गवाह हैं। चश्मदीद गवाह ज्यादा विश्वसनीय हैं। फर्स्ट-हैंड सबूत होना हमेशा बेहतर होता है।

इस पर साल्वे ने चीफ जस्टिस से पूछा कि क्या वह धारा 164 के तहत दर्ज गवाहों के कुछ बयान सीलबंद लिफाफे में दिखा सकते हैं। साल्वे ने कोर्ट को यह भी बताया कि लोगों को सबूत देने के लिए आगे आने के लिए विज्ञापन दिया गया था और कई डिजिटल वीडियो सबूत बरामद किए गए हैं।

चश्मदीदों के बयानों की रिकॉर्डिंग जल्दी पेश करने का निर्देश
चीफ जस्टिस एनवी रमना और जस्टिस सूर्यकांत और हेमा कोहली की बेंच ने यूपी पुलिस को आदेश दिया कि चश्मदीदों के बयानों की रिकॉर्डिंग न्यायिक मजिस्ट्रेट के सामने जल्दी पेश की जाए। साथ ही वीडियो सबूतों की फॉरेंसिक रिपोर्ट में तेजी लाई जाए।

कोर्ट ने कहा कि CRPC की धारा 164 के तहत न्यायिक मजिस्ट्रेट ओर से गवाहों के बयान दर्ज किए जाएं। अगर मजिस्ट्रेट की गैर-मौजूदगी के कारण गवाहों के बयान दर्ज करने में कोई कठिनाई होती है तो जिला जज को यह सुनिश्चित करे कि निकटतम मजिस्ट्रेट द्वारा बयान दर्ज किया जाए।

पत्रकार की हत्या मामले में रिपोर्ट दाखिल करने का निर्देश
अदालत ने राज्य सरकार को पत्रकार की पीट-पीटकर हत्या करने के मामले से जुड़ी दो शिकायतों के संबंध में रिपोर्ट दाखिल करने का निर्देश दिया। बेंच ने कहा कि राज्य को इन मामलों में अलग-अलग जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया जाता है। कोर्ट अब मामले में 8 नवंबर को सुनवाई करेगा।

SIT ने 2 प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया
लखीमपुर खीरी हिंसा मामले की जांच कर रही SIT ने 2 प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया है। जांच टीम के मुताबिक, मामले के आरोपी सुमित जायसवाल की FIR के आधार पर विचित्र सिंह और गुरुविंदर सिंह को गिरफ्तार किया गया है। सुमित का आरोप है कि दोनों हिंसा में शामिल थे।

Related posts

प्रवासी कामगारों के लिए मुफ्त खाद्यान्न वितरण की संभावना से सरकार का इन्कार

Umang Singh

केंद्रीय मंत्री गंगवार ने लिखा- अफसर फोन नहीं उठाते, मरीजों को भर्ती नहीं किया जाता; मेडिकल इक्विपमेंट मनमाने दामों पर बिक रहे

Umang Singh

करीबी मुकाबले में छूट न जाए कुर्सी! पहले ही गोवा और मणिपुर पहुंचे कांग्रेस के संकटमोचक

Swarajya Bharat Team

अगस्त से दिसंबर तक 216 करोड़ डोज मिलेंगे, केवल 2 नहीं बल्की 8 टीकों का विकल्प होगा

Umang Singh

UPPSC PCS Exam 2021 Postponed: पीसीएस समेत ये परीक्षाएं हुईं स्थगित, चेक करें ऑफिशियल नोटिस

Umang Singh

चमोली उत्तराखंड: भारत चीन सीमा के पास ग्लेशियर टूटने से , 8 लोगों की मौत, 384 को सुरक्षित निकाला गया

Umang Singh

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Live Corona Update

Live updates on covid cases

AllEscort