33.1 C
New Delhi
June 18, 2021
National Trending

हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार से कहा- दिल्ली को ऑक्सीजन देने के आदेशों का सख्ती से हो पालन

दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) ने केंद्र सरकार (Centre Govt) को आदेश दिया कि वो दिल्ली को ऑक्सीजन (Oxygen in Delhi) देने के आदेशों का कड़ाई से पालन कराए.

हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार से कहा- दिल्ली को ऑक्सीजन देने के आदेशों का सख्ती से हो पालन

HC ने कहा कि ऑक्सीजन परिवहन में बाधा डालने वालों पर कार्रवाई हो. (फाइल फोटो)नई दिल्ली: 

देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. कोविड से होने वाली मौतें भी डरा रही हैं. कई राज्यों में अस्पतालों के बुरे हालात हैं. मरीजों की बढ़ती संख्या के कारण उपचार के साधन कम होते जा रहे हैं. ऑक्सीजन (Oxygen Shortage) की किल्लत किसी से छुपी नहीं है. ऑक्सीजन को लेकर दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) में सुनवाई शुरू हुई. SG तुषार मेहता ने सुनवाई के दौरान कहा कि केंद्र सरकार ने अभी एक आदेश जारी किया है कि कहीं भी ऑक्सीजन को रोका नहीं जाएगा. केंद्र का आदेश सभी राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों को भेजा गया है. 

दिल्ली हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार को आदेश दिया कि वो दिल्ली को ऑक्सीजन देने के आदेशों का कड़ाई से पालन कराए. हाईकोर्ट ने सभी संबंधित अथॉरिटी को ऑक्सीजन को बाधित न करने के केंद्र के आदेश का पालन करने को कहा. हाईकोर्ट ने कहा कि आदेशों का पालन न करने पर आपराधिक कार्रवाई होगी. हाईकोर्ट ने केंद्र को ऑक्सीजन परिवहन के लिए स्पेशल कॉरिडोर बनाने और ऑक्सीजन वाहनों को पर्याप्त सुरक्षा देने को कहा है. HC ने कहा कि ऑक्सीजन परिवहन में बाधा डालने वालों पर कार्रवाई हो.

तुषार मेहता ने कहा कि ये डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट के तहत आदेश जारी किया गया है कि मेडिकल ऑक्सीजन वाहनों को नहीं रोका नहीं जाएगा. कोई प्राधिकरण ऑक्सीजन को नहीं रोकेगा. डीएम, डीसीपी और एसपी निजी तौर पर जिम्मदार होंगे. गृह मंत्रालय ने कहा है कि तमाम कदम उठा रहे हैं. कल पानीपत में कुछ दिक्कत हुई थी. दो टैंकर दिल्ली के लिए निकले थे 30 मेट्रिक टन ऑक्सीजन लेकर. हरियाणा में भी ऑक्सीजन की जरूरत थी. हम हर मिनट मामले को देख रहे हैं.

हाईकोर्ट ने कहा कि लेकिन ऑक्सीजन तो रोजाना चाहिए. आगे कैसे कदम उठाए जाएंगे. ये एक दिन की बात नहीं है. हाईकोर्ट ने केंद्र से कहा कि हम जानते हैं सरकार चाहे तो स्वर्ग और धरती को मिला दे. सुनिश्चित करें कि पानीपत से ऑक्सीजन दो-तीन घंटे में पहुंच जाए. मामला गंभीर है. अगर ये ऑक्सीजन आ जाए तो कुछ लोग सांस ले पाएंगे.

हाईकोर्ट ने केंद्र से कहा कि केंद्र चाहे तो ऑक्सीजन की कमी पूरी हो सकती है. हम आदेश जारी कर देंगे कि पानीपत से ऑक्सीजन को रोका न जाए. अगर आदेश का पालन न हुआ तो इसे गंभीरता से लिया जाएगा. सरकार आदेश जारी कर देती है लेकिन अमल करने पर काम नहीं करती. हम जानते हैं कि सरकार कैसे काम करती है.

Related posts

चुनाव आयोग ने ममता बनर्जी के प्रचार करने पर 24 घंटे की रोक लगाई, विरोध में धरने पर बैठेंगी दीदी

Umang Singh

सऊदी अरब ने भारत-पाकिस्तान से किया बातचीत से कश्मीर समेत सभी बचे मुद्दे सुलझाने का आग्रह

Umang Singh

कोरोना में पैरेंट्स को राहत:सुप्रीम कोर्ट ने कहा- स्कूल चलाने का खर्च कम हुआ, इसलिए ऑनलाइन क्लासेस की फीस घटानी चाहिए

Umang Singh

गुजरात के भरूच में अस्पताल में आग लगने के कारण 18 की मौत

Umang Singh

राजन मिश्र अक्सर मौत पर बात करते थे, कहते थे- जिंदगी जियो, अगर मौत को आना होगा तो एक दिन आएगी ही

Umang Singh

कच्चे तेल में गिरावट का असर नहीं, आज भी नहीं बदले पेट्रोल-डीजल के दाम

Umang Singh

Leave a Comment

Live Corona Update

Live updates on covid cases