13.2 C
Delhi
जनवरी 15, 2021
Breaking News World

ब्रिटेन में कोरोना का कहर, रिकॉर्ड 55 हजार से ज्यादा नए केस मिले, अमेरिका और फ्रांस में मिले नए स्ट्रेन के मामले

लंदन, एजेंसियां। ब्रिटेन में कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन मिलने के बाद महामारी का कहर बढ़ गया है। इस देश में बीते 24 घंटों के दौरान रिकॉर्ड 55 हजार से ज्यादा नए पॉजिटिव केस पाए गए और 964 पीडि़तों की मौत हुई। इस यूरोपीय देश में महामारी शुरू होने के बाद पहली बार एक दिन में इतनी बड़ी संख्या में नए मामले मिले हैं। वहीं अमेरिका के कैलिफोर्निया और कोलोराडो के बाद अब फ्लोरिडा प्रांत में कोरोना की नई स्ट्रेन के मामले सामने आए हैं। यही नहीं रूस में भी संक्रमितों की संख्‍या बढ़ी है।

ब्रिटेन में गुरुवार को जारी ताजा डाटा के अनुसार, देशभर में बीते 24 घंटों के दौरान 55 हजार 892 नए संक्रमित पाए गए। यह लगातार तीसरा दिन है, जब 50 हजार से ज्यादा नए मामलों की पुष्टि की गई। इससे देश में पीडि़तों की कुल संख्या 24 लाख 88 हजार से अधिक हो गई है। कुल 73 हजार 512 मरीजों की जान गई है। महामारी की दूसरी लहर की चपेट में आए ब्रिटेन में गत माह कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन मिला था। इसके बाद से ही यहां नए मामलों में उछाल दर्ज किया जा रहा है। ब्रिटेन से यह स्ट्रेन दुनिया के कई देशों में पहुंच गया है। कोरोना का यह नया रूप 70 फीसद ज्यादा संक्रामक बताया जा रहा है।

रूस : इस देश में 27 हजार नए रोगी मिलने से पीडि़तों का आंकड़ा 31 लाख 86 हजार से ज्यादा हो गया है। कुल 57 हजार 555 पीडि़तों की मौत हुई है।

थाइलैंड : थाई राजधानी बैंकाक में कोरोना संक्रमण बढ़ने पर स्कूलों और इंटरटेनमेंट पार्को को बंद कर दिया गया है। यहां 279 नए मामले पाए गए हैं।

Related posts

बिहारः BJP के कंधों पर सवार होकर नैया पार लगाने की जुगत में नीतीश कुमार

saurabh

अमेरिका, जर्मनी और ब्रिटेन में दिसंबर में शुरू होगा वैक्सीनेशन; ईरान में एक दिन में 13 हजार केस और 475 मौतें

saurabh

छह दिन में 51 हजार एक्टिव केस कम हुए, 13 दिन पहले सबसे ज्यादा 24 हजार बढ़े थे; देश में अब कुल 57.30 लाख संक्रमित

saurabh

Here’s How Far the World Is From Meeting Its Climate Goals

saurabh

चीन का झूठा दावा:प्रोफेसर बोले- चीनी सेना ने लद्दाख में माइक्रोवेव वेपंस इस्तेमाल किए; इंडियन आर्मी ने कहा- ऐसा कुछ नहीं हुआ

saurabh

ओबामा ने किताब में लिखा- सोनिया ने मनमोहन को चुना, क्योंकि वे राहुल के लिए खतरा नहीं थे

saurabh

Leave a Comment